Tuesday, June 16, 2009

इतना बड़ा अखबार और इतनी बड़ी भूल

प्रिंट मीडिया में भी ऐसी गलतियां बहुत कम होती हैं। टाइम्स ऑफ इंडिया ने 15 जून 2009 और 16 जून 2009 , दोनों दिन अपने अहमदाबाद के संस्करण में बिल्कुल एक जैसा ही संपादकीय पृष्ठ छाप डाला है! वही संपादकीय लेख, वही लेख, वही पाठकों के पत्र!! मतलब, हर कोण से दोनों पृष्ठ एक जैसे हैं। सिर्फ तारीख अलग है!!

दोनों चित्रों को क्लिक कर देखा जा सकता है।

Labels: ,

4 Comments:

At 9:27 PM, Blogger सतीश पंचम said...

तकनीकी रूप से ये जरूर एक भूल है कि कल की खबर आज भी सिर्फ तारीख बदल कर छप गई, लेकिन जरा ध्यान दें तो आप पाएंगे कि दस साल पुराना अखबार का पृष्ठ और आज -कल की तारीख का पृष्ठ एक सा लगेगा , बस तारीख बदली होगी और वो भी एक दो दिन का नहीं, दशकों की तारीख । यकीन न हो तो ये रही सुर्खियाँ -

- भारत - पाक में वार्ता संभव
- अमेरिका ने आतंकवाद को खतरा बताया
- पेट्रोल डीजल के दाम बढने के आसार
- प्रधानमंत्री ने बढती कीमतों पर चिंता जताई
- मुंख्यमंत्री ने सब्सिडी की माँग की

--- अब इन खबरों को आप दस साल पहले भी पढते थे....अब भी पढते हैं, बस तारीख बदल जाती है।

इसे कहते हैं इतिहास की हरमेल सब्जी, जिसे फेरफार कर चटक मटक बना लो और परोस दो :)

 
At 2:29 AM, Blogger राजीव जैन Rajeev Jain said...

बाप रे
भयंकर गलती

 
At 11:41 AM, Blogger मुनीश ( munish ) said...

Only advertisement needs to be different yaar ! itz okkkay. By the way why do people buy this bloody toilet paper?

 
At 5:24 AM, Blogger Henri said...

इस ब्लॉग पर जाएँ:
http://lusasportsemgeral.blogspot.com/

 

Post a Comment

<< Home